Navneet Hindi

NAVNEET HINDI

SUBSCRIBE
THE PRINT EDITION
FREE ISSUES: SIX BACK ISSUES FREE !!!
December2021
December2021
January2022
January2022
February2022
February2022
March2022
March2022
April2022
April2022
May2022
May2022

Register yourself to read any of these issues FREE.


FREE REGISTRATION:

  • Register now to avail any PAID/FREE service offered by this site.
  • All registered users can read online SIX previous issues (excluding the last two issues)of digital version of Navneet Hindi absolutely FREE.
  • A paid subscriber of digital version of Navneet Hindi can read online Current Issue and EIGHT back issues.
  • All these online issues will be available for one year till the subscription to the digital version of Navneet Hindi ends.
  • The paid Subscription for digital version of Navneet Hindi is for one year after which it will automatically expire.
  • One needs to re-register to subscribe to digital version of Navneet Hindi again.
    Download PDF version facility is allowed only to subscribers of digital version of Navneet Hindi who have paid Rs.220/- as subscription fee.
Membership Type Six Issues Free Last Two Issues Current issue Download PDF
Free Reading Yes No No No
₹.120/- Yes Yes Yes No
₹. 220/- Yes Yes Yes yes

About Bhavan's Navneet Hindi:

70 साल पहले एक बीज बोया गया था, जो आज फलों-फूलों से लदा वृक्ष बनकर समाज को सदविचारों की छाया दे रहा है. देश के आज़ादी प्राप्त करने के पांच वर्ष बाद ही 1952 में स्वर्गीय श्री गोपाल नेवटिया ने हिंदी में एक डाइजेस्ट प्रकाशित करने की ज़रुरत महसूस की थी. इसी कामना ने नवनीत को जन्म दिया, जो पिछले 70 साल से निरंतर प्रकाशित हो रहा है. आज नवनीत संभवतः हिंदी की सबसे पुरानी मासिक पत्रिका ही नहीं है,देश की सबसे महत्वपूर्ण पत्रिकाओं में इसकी गणना होती है. साहित्य, संस्कृति और समाज की धमनियों को समझने, उनकी धड़कनों को आवाज़ देने और समय को दिशा देने की एक सार्थक समझ और कोशिश का एक नाम है नवनीत.

भारतीय विद्या भवन द्वारा प्रकाशित यह पत्रिका उन मूल्यों और आदर्शों की संवाहक है जो भारतीय संस्कृति को एक पहचान देते हैं. समय की आवश्यकताओं को समझकर उनके अनुरूप स्वयं को ढालने और उन आवश्यकताओं की पूर्ति करते हुए, समय की शक्तियों को गति देने का एक अविराम संकल्प है नवनीत.

हिंदी और अन्य भारतीय भाषाओं के शीर्ष रचनाकारों की लेखनी के माध्यम से यह पत्रिका सांस्कृतिक पत्रकारिता की एक पहचान बन चुकी है.

विषयों की विविधाता और गहराई के साथ उनका विश्लेषण नवनीत की विशेषता है और पुरानी तथा नई पीढ़ी के लिए सार्थक सामग्री नवनीत को विशिष्ट बनाती है.

LATEST ISSUE
August2022
वर्ष : 7 अंक:12अगस्त 2022
कुलपति उवाच
03 ताकि स्वतंत्रता सुरक्षित रहे
के.एम. मुनशी
अध्यक्षीय
04 भगवद्गीता
सुरेंद्रलाल जी. मेहता
पहली सीढ़ी
11 ज़िंदगी
एरिष फ्रीड
व्यंग्य
43 अपनी-अपनी आज़ादी
शशिकांत सिंह 'शशि'
45 तकनीकी तरक्की और डेढ़ हाथ के लोग
गोपाल चतुर्वेदी
शब्द-सम्पदा
138 सब बराबर हैं
अजित वडनेरकर
आवरण-कथा
12 अमृत-काल का सच
सम्पादकीय
14 जो भारत का अमृत है......
रमेश जोशी
18 आज़ादी के 75 साल और बढ़ती विडम्बनाओं का सवाल
प्रियदर्शन
23 दुनिया में स्वतंत्र, संप्रभु भारत का होना
शिवदयाल
30 स्वतंत्रता की संकुचित होती अवधारणा
डॉ. दीपक पाचपोर
36 चुनौतियों से घिरा लोकतंत्र
रामशरण जोशी
41 एक नया इतिहास शुरू हो रहा है...
जवाहरलाल नेहरू
आलेख
50 77वीं बरसी पर हिरोशिमा की पुकार
हरजेंद्र चौधरी
73 गोपीचंद नारंग : जातीय साहित्य के अंतिम प्रतीक
डॉ. अमरनाथ
79 `उर्दू जिसे कहते हैं ज़बां है मेरी'
प्रगति टिपणीस
95 लातिन अमेरिका का जादुई यथार्थ और इसाबेल एलिंदे
जितेंद्र भाटिया
109 खुशी की तलाश भूटान में
अरुणेंद्र नाथ वर्मा
कथा
59 अजनबी
डॉ. दामोदर खड़से
90 अनुशासन
भगवान अटलानी
99 दो शब्द
इसाबेल एलिंदे
117 रुकना नहीं राधिका...
रमेश चंद्र
125 एक अबूझ को बूझने की कोशिश
127 भारतीय चित्रकला का सच
अशोक भौमिक
136 किताबें
कविताएं
49 एक चिड़िया... अनेक चिड़िया
विजया मुले
56 हिरोशिमा कन्या
नाजिम हिकमत
57 हिरोशिमा की याद
सुरेश ऋतुपर्ण
85 मैं गुज़रांवाला छोड़ आया
सरबजीत सिंह बहल
94 तू मुझे थाम ले, मैं तुझे थाम लूं
सागर त्रिपाठी
समाचार
140 भवन समाचार
144 संस्कृति समाचार

संपादक
विश्वनाथ सचदेव

फ़ोन : 022-23631261 / 23634462
फैक्स : 022-23630058
इ-मेल :navneet.hindi@gmail.com

सम्पादकीय कार्यालय
नवनीत
भारतीय विद्या भवन
कुलपति डॉ. के. एम्. मुंशी मार्ग,
चौपाटी, मुंबई 400 007